Type Here to Get Search Results !

UP बोर्ड :100वें साल की बोर्ड परीक्षा में लाखों बालिकाओं को होगा दोहरा फायदा

0

यूपी बोर्ड की स्थापना के 100वें साल में होने वाली परीक्षा में बेटियों को डबल गिफ्ट मिलेगा। परीक्षा के लिए केंद्र निर्धारण में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 की लाखों छात्राओं को दोहरा फायदा होगा। एक तरफ तो राजकीय, अशासकीय सहायता प्राप्त और वित्तविहीन बालिका विद्यालयों को केंद्र निर्धारण की अनिवार्य अर्हताएं पूरी करने पर पहली बार प्राथमिकता के आधार पर सेंटर बनाने की व्यवस्था की गई है। 

वहीं दूसरी ओर स्कूल के केंद्र बनने पर बालिकाओं को स्वकेंद्र की सुविधा का भी लाभ मिलेगा। यानि यदि किसी स्कूल में छात्र-छात्राएं दोनों पढ़ते हैं और वह केंद्र बनता है तो उस स्थिति में छात्रों को दूसरे स्कूल में परीक्षा देनी होगी लेकिन छात्राओं को उसी स्कूल में सेंटर आवंटित किया जाएगा। स्वकेंद्र वाला नियम पूर्व के वर्षों में भी था। इससे 2021 की परीक्षा में 10वीं एवं 12वीं की 25 लाख से अधिक छात्राओं को लाभ होगा। 

कोरोना काल में इस बार परीक्षा केंद्रों की संख्या 12 हजार से अधिक होने का अनुमान है। ऐसे में छात्राओं को परीक्षा देने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। गौरतलब है कि पिछले कुछ वर्षों में 10वीं-12वीं के लिए पंजीकृत कुल परीक्षार्थियों में से छात्राओं की संख्या 44 से 45 प्रतिशत के आसपास रहती है।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad