Featured

Type Here to Get Search Results !

बनारस: पूर्वांचल के विभिन्न जिलों में न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री, धूप खिली पर मफलर-टोपी नहीं हिली

0

बनारस समेत पूर्वांचल के विभिन्न जिलों में शीतलहर का प्रकोप जारी है। 10 से 12 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली सर्द हवा ने शनिवार को धूप को भी बेअसर कर दिया। धूप खिली-खिली निकली लेकिन छतों पर या खुले आसमान के नीचे बैठने वालों के चेहरों से मफलर-टोपी और शरीर से गर्म कपड़े नहीं उतरे। शनिवार को अधिकतम तापमान 21.4 जबकि न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री सेल्सियश दर्ज किया गया। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 18 डिग्री था। न्यूनतम तापमान सामान्य से अब भी चार डिग्री कम है। वातावरण में नमी की मात्रा 75 फीसदी है।

पर्वतीय क्षेत्र में बर्फबारी और वहां से आ रही सर्द हवा के चलते दिन में भी अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम रहा। इस वजह से तेज धूप के बावजूद ठंड लग रही थी। छाये में जाते ही हवा हड्डी तक बिंधती महससू हो रही थी। मौसम का यह मिजाज बिमारियों को जन्म देने वाला है। इसलिए लोगों को विशेष सतर्क रहने की जरूरत है, खासकर बच्चों और बुजुर्गों को।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि सोमवार से अधिकतम और न्यूनतम तापमान में मामूली वृद्धि होगी। लेकिन तापमान सामान्य से कम ही रहेगा। अधिकतम 19 से 22 और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है। सुबह के वक्त घना कोहरा रहेगा। शाम को ठिठुरन बनी रहेगी। वहीं, मौसम की वेबसाइट स्काईमेट के अनुसार कम से कम 21 दिसंबर तक उत्तर भारत के मैदानी इलाकों, मध्य भारत और पूर्वी भारत के क्षेत्रों में सर्द हवा इसी तरह से चलती रहेगी। तापमान में और कमी आएगी। 21 दिसंबर से हवा की गति व तल्खी में कुछ कमी आनी शुरू होगी। 22 दिसंबर से सर्दी से बड़ी राहत मिल सकती है।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad