Featured

Type Here to Get Search Results !

रेलवे स्टेशन दिलदारनगर में 27 जोड़ी ट्रेनों के सापेक्ष महज नौ का ठहराव

0

वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बाद कोहरा ने ट्रेनों के परिचालन पर ब्रेक लगा दिया है। ट्रेनों का परिचालन बंद होने से यात्रियों की मुसीबत बढ़ गई हैं। स्थानीय स्टेशन पर ठहराव वाली 27 जोड़ी ट्रेनों के सापेक्ष महज नौ जोड़ी ट्रेनों का ठहराव होने से यात्रियों को गंतव्य स्टेशनों पर जाने के लिए दोहरी मार झेलनी पड़ रही है।

स्थानीय स्टेशन के अप लाइन में रात 9.51 बजे संघमित्रा एक्सप्रेस के बाद भोर 2.38 बजे राजेंद्र नगर लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस का ठहराव है। इसके बाद लगभग नौ घंटे बाद पटना डीडीयू मेमो पैसेंजर ट्रेन है। सुबह में आठ बजे फरक्का एक्सप्रेस का ठहराव शुरू हुआ था, लेकिन कोहरे के कारण रेलवे ने 16 दिसंबर से 31 जनवरी तक इसका भी ठहराव रद कर दिया। इससे यात्रियों की परेशानी और बढ़ गई। यही हाल डाउन लाइन में भी है। भोर में 4.30 बजे श्रमजीवी, इसके बाद सुबह छह बजे संघमित्रा सुपर फास्ट, फिर साढ़े पांच घंटा बाद 11.58 बजे ब्रह्मपुत्रा मेल व चार घंटे बाद 3.48 बजे मेमो पैसेंजर है। 

ठहराव वाली ट्रेनों की संख्या कम होने से मजबूरन यात्रियों को अत्यधिक खर्च कर सड़क मार्ग से डीडीयू, वाराणसी, बक्सर जाना पड़ रहा है। हालांकि एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन न होने से लोकल यात्रियों को परेशान होना पड़ रहा है। रेलवे की ओर से चलाया गया पटना डीडीयू मेमो ट्रेन का परिचालन भी ठीक ढंग से नहीं हो रहा है। यह भी अपने निर्धारित समय से प्रतिदिन आधा से एक घंटा की देरी से पहुंच रही है।

कल से विभूति एक्सप्रेस का ठहराव

वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण में आठ माह से बंद हुई विभूति एक्सप्रेस18 दिसंबर से पटना डीडीयू रेल खंड पर दौड़ी। यह स्पेशल ट्रेन हावड़ा-प्रयागराज (रामबाग ) के बीच चलेगी। स्पेशल ट्रेन विभूति एक्सप्रेस 18 दिसंबर को रात आठ बजे हावड़ा से चलकर और अगले दिन यानी 19 दिसंबर को दिलदारनगर स्टेशन पर सुबह 6.38 बजे पहुंचेगी और दोपहर 12 बजे प्रयागराज रामबाग पहुंचेगी। वापसी में प्रयागराज रामबाग से दोपहर 3.40 पर छूटेगी और वाराणसी होते हुए 19.54 बजे पर दिलदारनगर स्टेशन पर पहुंचकर 19.56 पर बक्सर की ओर रवाना होगी।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad