Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर में कोहरा की छाई चादर, सड़कों पर धीमी हुई रफ्तार, ओस ने सर्दी बढ़ाई

0

गाजीपुर में सर्दी की दस्तक के साथ मंगलवार रात पहले दिन कोहरा ने दस्तक दी। ओस ने सर्दी बढ़ाई तो सुबह हल्की हवाओं ने हालात ही बदल दिए। सर्दी के चलते जिले के सभी क्षेत्रों में कोहरे की चादर लिपटी नजर आ आई। कोहरे के चलते हाईवे पर वाहन रेंगते हुए नजर आए। वाहनों की रफ्तार थम गई और ठंड का असर बढ़ गया। मौसम विभाग ने 'मध्यम कोहरे' का अलर्ट देते हुए सर्दी के बढ़ने का अनुमान लगाया है। अगले पांच दिनों तक ऐसी ही ठंड देखने को मिल सकती है। इसके बाद मैदानों में सर्द हवाएं चलेंगी, जिससे सर्दी बढ़ेगी और शीतलहर बनेगी। आज से लगातार दिन-रात के तापमान में गिरावट आना शुरू हो गई। मौसम विभाग के अनुसार 10 दिसंबर तक सुबह के वक्त हल्के से मध्यम कोहरा बना रहेगा।

गाजीपुर में भगवान भाष्कर पर कोहरे का कवर लगना शुरु हो गया है, सुबह घना कोहरा जनपद और आसपास के क्षेत्र में छा गया। रात से ही कोहरा गिरने का जो क्रम शुरु हो रहा है, वह सुबह कभी 10 तो कभी 11 बजे तक बना रहा। इससे जहां आम जन-जीवन प्रभावित हो रहा है, वहीं इसका असर यातायात व्यवस्था पर भी पड़ रहा है। सड़क पर वाहन रेंगते नजर आ रहे हैं। ट्रेनों की रफ्तार भी धीमी पड़ने लगी है। पिछले कई दिनों से मौसम के मिजाज में उतार-चढ़ाव का क्रम जारी है। कभी बदली छा जा रही है तो कभी धूप निकल जा रही है। सर्दी के साथ ही गलन का प्रभाव बढ़ गया है। आलम यह है कि बाहर की कौन कहे, घरों के अंदर भी लोगों को गलन महसूस हो रही है। इससे बचाव के लिए लोगों ने गर्म कपड़ों का इस्तेमाल करने के साथ ही दिन में धूप का सहारा लेना शुरु कर दिया है। जैसे-जैसे शाम ढल रही है, वैसे-वैसे ठंड का प्रभाव भी बढ़ता जा रह है। 

शहर में तो ठंड का प्रभाव कुछ कम दिखाई दे रहा हैं, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में इसका असर ज्यादा है। इससे बचने के लिए लोगों ने सुबह और शाम अलाव का सहारा लेना शुरु कर दिया है, जिससे कि उन्हें ठंड से कुछ राहत मिल सके। रात होते ही कोहरे की चादर तन जा रही है। इससे एक तरफ जहां आम जन-जीवन प्रभावित हो रहा है, वहीं सबसे ज्यादा परेशानी वाहन चालकों को हो रही है। कोहरे की धुंध से उन्हें रास्ता नहीं दिखाई दे रहा है। इससे वह इंडिकेटर और लाइट के सहारे धीमी रफ्तार में रेंगते हुए देर से गंतव्य तक पहुंच रहे हैं। कोहरा से ट्रेनों की रफ्तार पर भी असर दिखाई देने लगा है। अचानक कोहरा का प्रभाव शुरु होने से लोग आंशका व्यक्त कर रहे हैं कि अब ठंड उन्हें अपनी ताकत का एहसास कराएगी।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad