अयोध्या में बन रहे राम जन्मभूमि मंदिर की डिजाइन में हो सकता है बदलाव, नहीं बदलेगा मूल ढांचा - Dildarnagar News | Ghazipur News✔ ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी ✔

Breaking News

Saturday, 3 October 2020

अयोध्या में बन रहे राम जन्मभूमि मंदिर की डिजाइन में हो सकता है बदलाव, नहीं बदलेगा मूल ढांचा

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव व विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने कहा कि इस वक्त विहिप का पूरा ध्यान राम मंदिर निर्माण पर है। मथुरा और काशी फिलहाल एजेंडे से बाहर है। प्रयागराज के केसर भवन में आयोजित लखनऊ क्षेत्र के चार प्रांतों की बैठक में शामिल होने आए विहिप के केंद्रीय उपाध्यक्ष ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान यह बात कही। 

मथुरा और काशी पर के सवाल पर उन्होंने कहा कि समझदार लोग वो होते हैं जो एक काम का बीड़ा उठाने के बाद उसे पूरा करते हैं। इसके बाद ही दूसरा काम हाथ में लेते हैं। ऐसे में मथुरा काशी पर फिलहाल विचार संभव नहीं है। चंपत राय ने कहा कि विश्व हिन्दू परिषद इस वक्त अयोध्या में राम मंदिर निर्माण पर ध्यान दे रहा है। मंदिर निर्माण में तीन साल का वक्त लगेगा। कार्यदायी एजेंसियां इस पर काम कर रही है। लगातार मंदिर के डिजाइन बदले जाने की बात पर उन्होंने कहा कि मंदिर की मूल डिजाइन में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। यह बात सही है कि जब विहिप ने राम मंदिर आंदोलन मुद्दा उठाया तो विहिप के महज 1500 वर्गगज जमीन के लिए बात कर रही थी। 

विहिप नेता ने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए एक एकड़ जमीन की आवश्यकता थी। जिसके अनुसार पूर्व में एक डिजाइन तैयार किया गया था। जब सुप्रीम कोर्ट ने नवंबर 2019 में राम मंदिर के पक्ष में फैसला सुनाया तो 70 एकड़ जमीन दी। ऐसे में अब अकेले मंदिर का निर्माण तीन एकड़ में होगा। जाहिर सी बात है कि फैलाव होगा। इसमें ड्राइंग में बदलाव होगा। मूल ढांचे में नहीं।  उनके साथ बैठक में काशी प्रांत के अध्यक्ष शुभ नारायण सिंह व उपाध्यक्ष विमल प्रकाश शामिल रहे। 

Read More

No comments:

Post a comment