उत्तर रेलवे के कैंट स्टेशन पर पहली अक्तूबर से खुलेगा कैंट स्टेशन का लाउंज - Dildarnagar News | Ghazipur News✔ ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी ✔

Breaking News

Monday, 28 September 2020

उत्तर रेलवे के कैंट स्टेशन पर पहली अक्तूबर से खुलेगा कैंट स्टेशन का लाउंज

रेलवे बोर्ड ने पहली अक्तूबर से स्टेशनों पर वीआईपी और एक्जीक्यूटिव लाउंज खोलने की अनुमति दे दी है। इस क्रम में कैंट रेलवे स्टेशन स्थित नवनिर्मित लाउंज के भी जल्द शुरू होने की उम्मीद है। आईआरसीटीसी के प्रतिनिधि इस सप्ताह उक्त लाउंज का निरीक्षण करेंगे। अगर कुछ कमियां होंगी तो उन्हें दूर करने के निर्देश के साथ ही लाउंज शुरू करने की तारीख भी तय की जाएगी।

उत्तर रेलवे के कैंट स्टेशन पर अंतरराष्ट्रीय दर्जे की यात्री सुविधाएं और सेवाएं विकसित हो रही हैं। सभी प्लेटफार्म पर लिफ्ट और स्वचालित सीढ़ियों के बाद यहां एक्जीक्यूटिव लाउंज भी तैयार हो गया है। पीपीपी मॉडल आधारित उक्त लाउंज का लाभ एसी प्रथम व द्वितीय श्रेणी के यात्रियों को मिलेगा। इन यात्रियों को ध्यान में रखते हुए अनुपयोगी पड़े पार्सल हाल को अपग्रेड कर एक्जीक्यूटिव लाउंज बनाया गया है। एक निजी एजेंसी के जरिये यह संचालित होगा। आईआरसीटीसी के प्रतिनिधि विनोद पांडेय ने बताया कि चूंकि पहली अक्तूबर से एक्जीक्यूटिव लाउंज खोलने की रेलवे ने अनुमति दे दी है। ऐसे में वीआईपी लाउंज भी शुरू कराया जाएगा।बैठने का भी लगेगा शुल्क, बुकिंग प्रति घंटे के हिसाब सेउक्त लाउंज के लिए बुकिंग करानी होगी। इसकी ऑफ लाइन व ऑनलाइन दोनों तरह से बुकिंग प्रति घंटे के हिसाब से होगी। पूर्णरूप से वातानुकूलित लाउंज में यात्रियों के लिए मैगजीन, एलईडी टीवी, सोफा आदि होगा। यह लाउंज विदेशी पर्यटकों के लाउंज से बेहतर है। बनारसी मिठाइयों का मिलेगा स्वाद लाउंज में बनारस की खास मिठाइयों और खानपान का स्वाद मिलेगा। इसके लिए यात्रियों को अलग से भुगतान करना होगा। लाउंज में प्रवेश करते ही काशी की अनुभूति होगी। इसकी बनावट और दीवारों पर सजी पेंटिंग यहां की संस्कृति का दर्शन कराएंगी।

महाकाल एक्सप्रेस के लिए भी मांगी अनुमति

आईआरसीटीसी ने महाकाल एक्सप्रेस के परिचालन की अनुमति के लिए रेलवे बोर्ड को पत्र भेजा है। वाराणसी से इंदौर के बीच चलने वाली उक्त गाड़ी का भी परिचालन लॉकडाउन के बाद से बंद है। अब आईआरसीटीसी के भारत दर्शन और ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा के लिए ट्रेनों की अनुमति मिलने के बाद महाकाल के भी चलने की संभावना है। दीपावली से इसके परिचालन की उम्मीद जताई जा रही है।

No comments:

Post a comment