वाराणसी : गंगा और सरयू के जलस्तर में कमी आने के बाद तटवर्ती इलाकों में बढ़ गई कटान - Dildarnagar News | Ghazipur News✔ ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी ✔

Breaking News

Friday, 11 September 2020

वाराणसी : गंगा और सरयू के जलस्तर में कमी आने के बाद तटवर्ती इलाकों में बढ़ गई कटान

पूर्वांचल की प्रमुख नदियों गंगा और सरयू के जलस्तर में लगातार कमी आने से दोनों ही नदियां अब बलिया जिले में भी चेतावनी बिंदु के नीचे आ गई हैंं। हालांकि कम होते जलस्तर के बीच तटवर्ती इलाकों में कटान बढ़ गई है। मऊ और बलिया जिले में कटान प्रभावित कई इलाकों में कई बीघे खेती की जमीन नदी की भेंट चढ़ चुकी है। वहीं खेतों के नदी में समाने से किसानों में काफी चिंता है। जबकि कई निचले इलाकों में पानी लगा होने की वजह से किसान खेती किसानी भी नहीं कर पा रहे हैं। दूसरी ओर फसलें पानी में डूब कर सडऩे से दुर्गंध भी पैदा हो रही है। पानी भरे गड्ढे जहां मच्छरों के पनपने के लिए स्वर्ग हैं तो वहीं संक्रामक रोग भी सिर उठाने लगे हैं। लोगों में आने वाले दिनों में डेंगू भी फैलने की आशंका जाहिर की जा रही है।

शुक्रवार की सुबह केंद्रीय जल आयोग की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार बलिया के तुर्तीपार में सरयू का जलस्‍तर 63.1 मीटर पर स्थिर है। हालांकि नदी का जलस्‍तर स्थिर होने के बाद से ही कई तटवर्ती इलाकों में सरयू की तल्‍ख लहरें कटान भी कर रही हैं। वहीं दोपहर में केंद्रीय जल आयोग की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार मीरजापुर, वाराणसी, गाजीपुर और बलिया में गंगा का जलस्‍तर लगातार घटाव की ओर है। बलिया जिले में अब गंगा का जलस्‍तर चेतावनी बिंदु के नीचे आ गया है। जौनपुर में गोमती नदी का जलस्‍तर स्थिर है तो सोनभद्र में रिहंद बांध का जलस्‍तर लगातार बढ़ाव की ओर है और बाण सागर बांध व सोन का जलस्‍तर घटाव की ओर हो गया है। वहीं आने वाले दिनों में अगर बरसात ठीक ठाक होती है तो दोबारा नदियों का जलस्‍तर बढ़ सकता है। हालांकि बाढ आने की संभावना अब कम ही है।

No comments:

Post a comment