Featured

Type Here to Get Search Results !

महावीर मंदिर पटना से भेजे गये घी से अयोध्या राम जन्मभूमि पर जलने लगा अखंड दीप

0


अयोध्या में राम जन्मभूमि पर राम लल्ला के अस्थायी मंदिर में मंगलवार से पटना के महावीर मंदिर से भेजे गये गाय घी से अखंड-दीप जलने लगा है। साथ ही दिन में पांच बार आरती भी इसी घी से होने लगी है। महावीर मंदिर न्यास पटना की ओर से मंगलवार को रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को अखंड दीप और आरती के लिये 75 टीन गाय घी सौंपा गया। 

न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने अनंत चतुदर्शी के मौके पर रामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र के सचिव चंपत राय को 75 टीन गाय घी सौंपा। बता दें कि इसी गाय घी से पटना के महावीर मंदिर का प्रसिद्ध नैवेद्यम लड्डू बनता है। महावीर मंदिर यह गाय घी कर्नाटक मिल्क फेडरेशन से खरीदता है। कुछ दिन पहले ही महावीर मंदिर न्यास ने रामजन्म भूमि तीर्थ के सचिव एवं रामजन्म भूमि मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास को यह सुझाव दिया था कि अखंड-दीप में गाय के शुद्ध घी का व्यवहार किया जाना चाहिए। साथ ही तीर्थक्षेत्र की अनुमति मिलती है, तो महावीर मंदिर गाय के शुद्ध घी का प्रबंध अखंड दीप के लिए करेगा। न्यास को अब इसकी अनुमति मिल गयी है।
 
इसी आलोक में महावीर मंदिर न्यास की ओर आचार्य किशोर कुणाल ने अनंत चतुर्दशी के पावन अवसर पर  रामजन्म भूमि तीर्थ न्यास को एक साल अखंड दीप जलते रहने के लिए तथा पांचों बार आरती के लिए 75 टीन (75×15 किलो) शुद्ध घी सौंपा। इसे स्वीकार करने के लिए रामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र के सचिव चम्पत राय स्वयं आये थे। इसी घी से प्रतिदिन पांच बार आरती भी होगी तथा अखंड दीप जलता रहेगा। पहले केवल अखंड दीप के लिए घी उपलब्ध कराने की योजना थी, लेकिन आज सौंपते समय वार्ता के बाद पांचों बार आरती के लिए भी घी देने की बात हुई। इसलिए पूर्व प्रस्तावित 25 टीन से बढ़ाकर 75 टीन घी सौंपा गया। एक दिन के अखंड दीप में करीब एक किलो घी लगता है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad