नहीं रहे मशहूर शायर डॉ. राहत इंदौरी, कभी कहा था 'ऐ मौत तूने मुझे जमींदार कर दिया' - Dildarnagar News and Ghazipur News✔ Buxar News | UP News ✔

Breaking News

Tuesday, 11 August 2020

नहीं रहे मशहूर शायर डॉ. राहत इंदौरी, कभी कहा था 'ऐ मौत तूने मुझे जमींदार कर दिया'

प्रसिद्ध शायर डॉ. राहत इंदौरी का इंदौर में मंगलवार शाम करीब पांच बजे निधन हो गया। अंतिम सांस के साथ ही अब वे 'जमींदार" हो गए हैं। दरअसल, शायरी के लंबे दौर में उन्होंने कभी कहा था|

कश्ती तेरा नसीब चमकदार कर दिया, इस पार के थपेड़ों ने उस पार कर दिया।

दो गज सही ये मेरी मिलकियत तो है, ऐ मौत तूने मुझे जमींदार कर दिया।

इस शेर में जमींदार होने से उनका आशय था कि जिस जमीन में उन्हें दफनाया जाएगा, वह भले ही दो गज की हो, मगर हमेशा के लिए उनकी मिलकियत (संपत्ति) हो जाएगी। उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। कोरोना से संक्रमित होने की जानकारी राहत इंदौरी ने खुद ट्वीट कर दी थी। 

प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, शाम को उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उनका निधन हो गया। उनके दोनों फेफड़ों में कोरोना का संक्रमण और किडनी में सूजन थी। 

सुबह उन्होंने ट्वीट किया था कि कोविड के शुरुआती लक्षण दिखाई देने पर मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अरविंदो अस्पताल में भर्ती हूं, दुआ कीजिए जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं। एक और आग्रह है कि मुझे या घर के लोगों को फोन ना करें, मेरी खैरियत टि्वटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी। इस ट्वीट के बाद राहत इंदौरी के चाहने वाले जल्द से जल्द उनके स्वस्थ होने की दुआ के साथ मैसेज लिख रहे थे, लेकिन देर शाम उनके निधन की खबर आई।

Read More

No comments:

Post a comment