Featured

Type Here to Get Search Results !

सरकार ने टैक्स सिस्टम को कैसे बनाया और बेहतर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समझाया

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टैक्स सिस्टम को और बेहतर बनाने के इरादे से गुरुवार को 'ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन- ईमानदारों के लिए सम्मान' मंच की शुरुआत की। इसे कर सुधारों की दिशा में महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है। प्रधानमंत्री ने करदाताओं के लिए चार्टर (अधिकार पत्र) का भी ऐलान किया। उन्होंने देशवासियों से आगे बढ़कर ईमानदारी के साथ कर देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि 130 करोड़ लोगों के देश में मात्र डेढ़ करोड़ लोग ही कर देते हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि आज से शुरू हो रहीं नई व्यवस्थाएं, नई सुविधाएं न्यूनतम सरकार, कारगर शासन के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत करती है, ये देशवासियों के जीवन में सरकार के दखल को कम करने की दिशा में एक बड़ा कदम है। प्रधानमंत्री ने सुधारों का जिक्र करते हुए कहा, 'हमारे लिए सुधार का मतलब है, सुधार नीति आधारित हो, टुकड़ों में नहीं हो, समग्र हो और एक सुधार दूसरे सुधार का आधार बने, नए सुधार का मार्ग बनाए और ऐसा भी नहीं है कि एक बार सुधार करके रुक गए। ये निरंतर, सतत चलने वाली प्रक्रिया है।


'ईमानदार करदाता की राष्ट्रनिमार्ण में महती भूमिका'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ईमानदार करदाता की राष्ट्र के निमार्ण में महत्वपूर्ण भूमिका है और जब ईमानदार करदाता का जीवन आसान बनता है, वह आगे बढ़ता है तो देश विकास करता है तथा आगे भी बढ़ता है। उन्होंने कहा, 'एक दौर था जब हमारे यहां सुधारों की बहुत बातें होती थीं। कभी मजबूरी में कुछ फैसले लिए जाते थे, कभी दबाव में कुछ फैसले हो जाते थे, तो उन्हें सुधार कह दिया जाता था। इस कारण इच्छित परिणाम नहीं मिलते थे। अब ये सोच और पहुंच दोनों बदल गई है।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नए प्लेटफॉर्म के तहत फेसलेस मूल्यांकन, फेसलेस अपील और करदाताओं का चार्टर शामिल है।



Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad