उत्तर प्रदेश डिफेंस कॉरीडोर के लिए बड़ी उपलब्धी, सरकार और नौसेना के बीच महत्वपूर्ण करार आज - Dildarnagar News and Ghazipur News✔ Buxar News | UP News ✔

Breaking News

Thursday, 13 August 2020

उत्तर प्रदेश डिफेंस कॉरीडोर के लिए बड़ी उपलब्धी, सरकार और नौसेना के बीच महत्वपूर्ण करार आज


यूपी सरकार और नौसेना के बीच आज महत्वपूर्ण करार होगा। भारतीय नौसेना और यूपीडा के बीच एमओयू पर ऑनलाइन दस्तखत होंगे। दिल्ली में डिफेंस मिनिस्टर राजनाथ सिंह व लखनऊ में मुख्यमंत्री भी होंगे। सीएम योगी की मौजूदगी में यूपी की निर्माण इकाई यूपीडा और नौसेना की संस्था ‘नेवल इनोवशन एण्ड इण्डीजनाइजेशन आर्गनाइजेशन के बीच अनुबंध किया जाएगा। 

उत्तर प्रदेश सरकार बीते वर्षों से ही घरेलू रक्षा विनिर्माण क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए बड़े और कड़े कदम लगातार उठा रही है। डिफेंस कॉरीडोर की स्थापना 6 जनपदों के 5,072 हेक्टेयर क्षेत्रफल में की जा रही है। इस कॉरीडोर का सबसे अधिक लाभ बुंदेलखण्ड को होगा। झांसी में 3,025 हेक्टेयर, कानपुर में 1,000 हेक्टेयर, चित्रकूट में 500 हेक्टेयर और आगरा में 300 हेक्टेयर भूमि पर कॉरिडोर के नोड्स स्थापित किये जा रहे हैं। इसके अलावा इस डिफेंस कॉरीडोर का विशेष हिस्सा लखनऊ और अलीगढ़ जनपदों में भी स्थापित किया जा रहा है। 

यूपीडा ने आईआईटी, बीएचयू एवं कानपुर के सहयोग से ‘सेन्टर ऑफ एक्सीलेन्स‘ की स्थापना की है, जो भारतीय नौसेना के सहयोग से उद्योग-विद्या संस्थान एवं उपभोक्ताओं के बीच एक मजबूत कड़ी का काम करेगा। 

गौरतलब है कि भारत के रक्षा उद्योग क्षेत्र में बहुत ही तेजी से बदलाव आ रहे हैं। बीते दिनों रक्षा क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए केन्द्र सरकार ने ऐतिहासिक लेते हुए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, मालवाहक विमान, पारंपरिक पनडुब्बियां, तोपें, कम दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइलें, क्रूज मिसाइलें सहित 101 विभिन्न उपकरणों व हथियारों के आयात पर पाबंदी लगाई है। रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, इस निर्णय से अगले कुछ वर्षों में घरेलू रक्षा उद्योग को लगभग 4 लाख करोड़ रुपये से अधिक के कार्य मिलेंगे। 


Read More

No comments:

Post a comment