Featured

Type Here to Get Search Results !

यूपी: 75 हजार प्रवासी श्रमिक रियल एस्टेट सेक्टर में काम करने को राजी

0

कोरोना लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्यों से उत्तर प्रदेश लौटे 75 हजार श्रमिकों ने बिल्डर साइट पर काम करने के लिए सहमति दे दी है। पांच हजार श्रमिकों ने काम शुरू कर दिया है, जबकि अन्य भी इसी माह में काम शुरू कर देंगे। इनकी संख्या लगातार बढ़ रही है। नेरेडको का दावा है कि उन्होंने 2.85 लाख श्रमिकों से संपर्क किया था। जिनकी सूची प्रदेश सरकार ने उन्हें उपलब्ध कराई थी।

नेशनल रियल स्टेट डेवलपमेंट काउंसिल उत्तर प्रदेश (नेरेडको) के अध्यक्ष और सुपरटेक ग्रुप के चेयरमैन आर के अरोड़ा ने बताया कि प्रदेश सरकार के साथ उन्होंने एमओयू साइन किया था जिसमें प्रदेश में लौटे श्रमिकों को उनके गृह राज्य में ही रोजगार देने का वायदा किया गया था। जिसके बाद प्रदेश सरकार की ओर से उन्हें 2.85 लाख श्रमिकों की सूची सौंपी गई थी। जिनसे उनकी संस्था द्वारा फोन और एसएमएस के माध्यम से संपर्क किया गया, इन श्रमिकों में से अभी करीब 75 हजार श्रमिकों ने काम करने के लिए अपनी सहमति दे दी है।

पांच हजार श्रमिक नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ, लखनऊ आदि स्थानों पर काम पर आ चुके हैं और अन्य भी इसी माह से काम शुरू कर देंगे। नेरेडको से 50 बिल्डरों ने 1.5 लाख मजदूरो की मांग की है, जिन्हें यह श्रमिक उपलब्ध कराये जायेंगे। उम्मीद है कि इस माह में ही तीन लाख से अधिक श्रमिकों को बिल्डर साइटों पर काम उपलब्ध कराया जा सकेगा। 

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad