प्रवासियों को घर पहुंचाने में मददगार होगा रजिस्ट्रेशन पोर्टल, देनी होंगी ये जानकारियां-: jansunwai.up.nic.in - Dildarnagar News and Ghazipur News✔ Buxar News | UP News ✔

Breaking News

Tuesday, 5 May 2020

प्रवासियों को घर पहुंचाने में मददगार होगा रजिस्ट्रेशन पोर्टल, देनी होंगी ये जानकारियां-: jansunwai.up.nic.in


कोरोनाकाल में लगे लॉकडाउन के कारण अपने गृह राज्य जाने के इच्छुक अन्य प्रदेशों में फंसे प्रवासियों की सुविधा के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक रजिस्ट्रेशन पोर्टल विकसित किया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर एनआईसी की ओर से विकसित इस पोर्टल पर पंजीकरण का लाभ अन्य राज्यों में फंसे उत्तर प्रदेश के निवासी उठा सकते हैं और अपने गृह प्रदेश जाने के इच्छुक यूपी में रह रहे अन्य सूबों के निवासी भी। पंजीकरण की यह सुविधा मंगलवार पांच मई दोपहर से उत्तर प्रदेश के जनसुनवाई पोर्टल के एंड्रॉइड एप पर भी उपलब्ध हो जाएगी।

जनसुनवाई पोर्टल jansunwai.up.nic.in पर पंजीकरण की यह सुविधा 'उत्तर प्रदेश से अन्य राज्य जाने हेतु' तथा 'अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश आने हेतु' लिंक्स पर उपलब्ध होगी। इन लिंक्स के माध्यम से पंजीकरण कराया जा सकता है। हालांकि सरकार ने यह साफ कर दिया है कि जनसुनवाई पोर्टल पर किये गए पंजीकरण को यात्रा की अनुमति नहीं समझा जाए। सक्षम स्तर से अनुमति मिलने पर आवेदक को इस बारे में सूचना दी जाएगी।

अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश आने और उत्तर प्रदेश से दूसरे प्रदेशों में जाने की खातिर पंजीकरण के लिए आवेदक को कुछ जानकारियां देनी होंगी। इस विवरण के सही होने के बारे में घोषणा भी करनी होगी। यह घोषणा भी करनी होगी कि जब आवेदक उत्तर प्रदेश पहुंचेगा तो उसे आवश्यक क्वारंटाइन में रहना पड़ सकता है। यह भी घोषित करना होगा कि आवेदक ने अपने शहर/जिले के किसी कंटेनमेंट जोन में पिछले दो माह से निवास नहीं किया है। यदि आवेदक की ओर से दी गई जानकारी गलत पायी जाती है, तो महामारी अधिनियम या आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

देनी होंगी ये जानकारियां
  • नाम
  • आयु
  • लिंग
  • यात्री की श्रेणी
  • मोबाइल नंबर
  • ई-मेल
  • पहचान पत्र व संख्या
  • कया वह परिवार के साथ यात्रा करना चाहता है।
  • यात्रा का तरीका।
  • आवेदक या उसके परिवार के किसी सदस्य को सर्दी/खांसी या बुखार या संबंधित लक्षण तो नहीं हैं -आवेदक या उसका परिवार हाल के दिनों में 14 दिवस के लिए क्वारंटाइन किया गया या नहीं।
  • यदि हां तो कब से कब तक।
  • आवेदक का वर्तमान पता।
  • जिस पते पर जाना चाहता है, उसके संपर्क व्यक्ति का नाम व मोबाइल नंबर।


No comments:

Post a comment