Type Here to Get Search Results !

देश के किसी भी कोने से निश्शुल्क लौटेंगे यूपी के प्रवासी, रेलवे का लें सहयोग

0

श्रमिक और कामगारों को लेकर हो रही राजनीति के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि उत्तर प्रदेश के प्रवासी देश के किसी भी कोने में हों, उन्हें वहां से निश्शुल्क लाने की व्यवस्था करें। सभी का खर्च प्रदेश सरकार वहन करेगी। इसके लिए योगी ने रेलवे के सहयोग और अन्य राज्य सरकारों से समन्वय बनाने के लिए कहा है। सभी धार्मिक त्योहार घर में रहकर ही मनाने की अपील करते रहे मुख्यमंत्री ने ईद को लेकर भी यही अपेक्षा की है। उन्होंने अपील की है कि घर पर ही ईद की नमाज अदा कर त्योहार मनाएं और शारीरिक दूरी का पालन जरूर करें।

शनिवार को शासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ लॉकडाउन की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशों की जानकारी पत्रकारो को देते हुए अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि सीएम योगी ने कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले लोगों की टेस्टिंग करने की विशेष आवश्यकता है ताकि संक्रमण नहीं फैले और जल्द ही इस पर नियंत्रण पाया जा सके।

जानी एक्सप्रेसवे परियोजनाओं की स्थिति 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया कि बड़े प्रोजेक्ट को तेजी से शुरू किया जाए। उन्होंने बताया कि गंगा एक्सप्रेस वे का 20 हजार 924 करोड़ रुपए का एस्टीमेट आ गया है। मेरठ से शुरू होकर है ये एक्सप्रेस वे प्रयाराज तक जाएगा। मुख्यमंत्री ने कुंभ के दौरान कैबिनेट की बैठक में इसकी घोषणा की थी। लॉकडाउन के बावजूद भी यूपीडा ने कार्य करते हुए एस्टीमेट तैयार कर लिया है। लैंड का प्रोजेक्ट लगभग 9 हजार करोड़ का होगा। इस 30 हजार के प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने का निर्देश मुख्यमंत्री ने दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को विभिन्न एक्सप्रेस वे के कार्यों की समीक्षा के दौरान बताया गया कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे में अब 5 हजार 535 कुशल श्रमिक कार्य के रहे हैं। 1144 इंजीनियर्स भी इसमें कार्य कर रहे हैं। साथ ही 3127 बड़ी मशीनें इस प्रोजेक्ट में लगी हुई हैं। बरसात से पहले मुख्यमंत्री ने इसके कार्यों को करने के निर्देश दिए हैं।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad