घनी आबादी के बीच क्वारेंटाइन सेंटर बनाने के विरोध में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन - Dildarnagar News | Ghazipur News✔ ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी ✔

Breaking News

Friday, 1 May 2020

घनी आबादी के बीच क्वारेंटाइन सेंटर बनाने के विरोध में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन



प्रखंड क्षेत्र के डपरखा वार्ड 4 स्थित मध्य विद्यालय डपरखा में प्रशासन द्वारा क्वारेंटाइन सेंटर बनाए जाने की जानकारी ग्रामीणों में हड़कंप मचा हुआ है। गुरुवार को डपरखा मध्य विद्यालय के समीप दर्जनों ग्रामीण पहुंचकर उक्त स्कूल को क्वारेंटाइन सेंटर बनाने के विरोध में स्कूल के समीप सड़क को जामकर जमकर हंगामा किया।
जिसके कारण सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ गई। विरोध कर रहे ग्रामीणों का आरोप था कि डपरखा के घनी आबादी के बीच इस स्कूल में क्वारेंटाइन सेंटर बनाना गलत है। ग्रामीण अनंतलाल सरदार, मुकेश सरदार, कृष्णा कुमार, बेचन यादव, अमित कुमार आदि ने बताया कि वैश्विक महामारी फैलने से पूरा देश चिंतित हैं। किसी दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को इस क्वारेंटाइन सेंटर में रखने से यहां के ग्रामीणों को इस बीमारी से संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा।
क्वारेंटाइन सेंटर को मध्य विद्यालय से कहीं अन्यत्र शिफ्ट करने की मांग कर रहे ग्रामीण
ग्रामीणों का कहना था कि डपरखा पंचायत के वार्ड 2,3,4 और 5 के बीच यह विद्यालय अवस्थित है। ऐसे में प्रशासन का यह निर्णय बिल्कुल सही नहीं है। लोगों ने कहा कि किसी भी कीमत पर इस विद्यालय में क्वारेंटाइन सेंटर बनाने नहीं दिया जाएगा। ग्रामीणों का कहना है कि विद्यालय के समीप होकर हमेशा गांव वालों का आना-जाना लगा रहता है। यहां क्वारेंटाइन सेंटर बनाने से लोगों में भय का माहौल है। ग्रामीणों ने प्रशासन से क्वारेंटाइन सेंटर को अन्यत्र सिफ्ट करने की मांग की है। इस संबंध में प्रखंड विकास पदाधिकारी ममता कुमारी ने बताया कि मुख्यालय स्थित अनुपलाल यादव महाविद्यालय के प्रांगण में कोरोनटाइन सेंटर बनाया गया है। डापरखा मध्यविद्यालय को रिजर्व में रखा गया है। अभी फिलहाल वहां पर किसी को भी शिप्ट नहीं कराया गया है।

बाहरी मजदूर आए तो प्रशासन को सूचना देकर 14 दिन किया जाए क्वारेंटाइन

वीरपुर | बसंतपुर प्रखंड के कोचगामा पंचायत भवन में लॉकडाउन के नियमों का पालन करने और बाहरी मजदूरों पर नजर बनाए रखने के लिए सरपंच जहां आरा की अध्यक्षता में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर बैठक की गई।
बैठक में पंचायत के बाहर से आए व्यक्तियों और मजदूरों पर लगातार ध्यान रखने और उन्हें क्वारेंटाइन करने पर विशेष चर्चा की गई। बैठक को संबोधित करते हुए जहां आरा ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए जो भी प्रवासी मजदूर बाहर से आते हैं। उनकी पहचान कर उसे 14 दिनों के लिए आइसोलेशन वार्ड में रखा जाय। पंचायत के सभी लोग मास्क का प्रयोग करे और घर मे अधिक से अधिक समय व्यतीत करें। मौके पर समाजसेवी नुरुल हौदा, समशेर आलम, मो रज्जाक, अब्दुल्लाह, गंगा राम, उपेंद्र राम, रामानंद मेहता, मो शमीम आदि दर्जनों लोग मौजूद थे।

No comments:

Post a comment