गौरव अल्ट्रासाउंड में इलाज कराने वाली मुंगेर की महिला पाई गई कोराेना पॉजिटिवबड़ा सवाल: एक समय सदर अस्पताल और अल्ट्रासाउंड में डॉ. अजय ने कैसे की ड्यूटी - Dildarnagar News | Ghazipur News✔ ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी ✔

Breaking News

Thursday, 30 April 2020

गौरव अल्ट्रासाउंड में इलाज कराने वाली मुंगेर की महिला पाई गई कोराेना पॉजिटिवबड़ा सवाल: एक समय सदर अस्पताल और अल्ट्रासाउंड में डॉ. अजय ने कैसे की ड्यूटी


19 अप्रैल को मुंगेर की कोरोना पॉजिटिव महिला का अल्ट्रासाउंड करने वाले गौरव अल्ट्रासाउंड एंड पैथोलॉजी से हर दिन एक नया विवाद सामने आ रहा है। जांच घर के संचालक धीरे-धीरे कई गड़बड़ियों के घेरे में आ रहे हैं। जांच घर के संचालक अपने जांच घर में सदर अस्पताल स्थित एसएनसीयू में कार्यरत चिकित्सक डॉ. अजय कुमार के द्वारा अल्ट्रासाउंड व जांच किए जाने की बात बता रहे हैं। अजय कुमार सदर अस्पताल के एसएनसीयू एवं गौरव अल्ट्रासाउंड दोनों जगह एक ही समय में कैसे कार्य कर रहे थे, यह एक बड़ा सवाल है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग इस बात की जांच कर रही है कि एक ही समय में डॉ. अजय कुमार एसएनसीयू एवं गौरव अल्ट्रासाउंड जांच घर में कैसे कार्य कर रहे थे। फिलहाल जांच घर के संचालक के साथ-साथ वहां कार्यरत चिकित्सक अजय कुमार भी जांच के घेरे में हैं।

100 बेड का बनेगा आइसोलेशन सेंटर
गिद्धौर | महुली में बने जीएनएम एवं पारा मेडिकल नर्सिंग कॉलेज का निरीक्षण बुधवार को डीएम धर्मेंद्र कुमार ने किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को आइसोलेशन सेंटर बनाए जाने को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिया। डीएम ने नर्सिंग कॉलेज का जायजा लिया। साथ ही कॉलेज से सटे ग्रामीण परिवेश होने के कारण चयनित स्थल को स्थगित कर दिया। बताते चले कि उक्त कॉलेज में 100 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया जाना था। लेकिन ग्रामीण परिवेश को देखते हुए पूर्व से गिद्धौर महाराजा चंद्रचूड विद्या मंदिर परिसर के निकट अवस्थित जिला शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान में बने आइसोलेशन वार्ड में ही 100 बेड का आइसोलेशन सेंटर बनाने का निर्देश प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रामस्वरुप चौधरी को दिया। उक्त शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान में पूर्व में 50 बेड का आइसोलेशन सेंटर प्रवासियों को क्वारेंटाइन करने के कारण बनाया गया था। मौके पर एसडीपीओ रामपुकार सिंह, मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. विजयेंद्र सत्यार्थी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रामस्वरुप चौधरी, थानाध्यक्ष आशीष कुमार, सीओ अखिलेश कुमार सिन्हा आदि मौजूद थे।


डॉक्टर हुए होम क्वारेंटाइन, सता रहा कोरोना का खतरा
मुंगेर की कोरोना पॉजिटिव महिला का अल्ट्रासाउंड करने वाले गौरव अल्ट्रासाउंड के चिकित्सक डॉ. अजय कुमार अब कोरोना संक्रमण के खतरे को लेकर होम क्वारेंटाइन में हैं। चिकित्सक सदर अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में कार्यरत थे जिस कारण इस दौरान कई लोगों के संपर्क में भी आए। लेकिन जैसे ही पता चला कि उनके द्वारा किसी पॉजिटिव महिला की जांच की गई है वे होम क्वारेंटाईन में चले गए हैं। राहत की बात यह है कि अबतक गौरव अल्ट्रासाउंड जांच घर में कार्यरत सभी 19 कर्मियों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। लेकिन एहतियातन सभी कर्मियों को होम क्वारेंटाईन में रखा गया है। इसके साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि शनिवार को इन सभी का सैंपल दोबारा जांच के लिए भेजा जाएगा।

दोनों जगह कैसे कर रहे थे कार्य, चिकित्सक से पूछा जाएगा स्पष्टीकरण
गौरव अल्ट्रासाउंड जांचघर के संचालक से यह पूछा गया है कि उनके यहां कौन से डाॅ. अजय कुमार कार्य कर रहे थे। यदि एसएनसीयू में कार्यरत चिकित्सक अजय कुमार द्वारा जांच किया जा रहा था तो अभी वे होम क्वारेंटाइन में हैं। वे जैसे ही आएंगे उनसे एक समय में दोनों जगह कैसे कार्य कर रहे थे इस संबंध में स्पष्टीकरण पूछा जाएगा।

No comments:

Post a comment